शिनच्यांग में स्थायित्व की रक्षा के कदमों पर निष्पक्ष रुख अपनाना चाहिये:चीनी विदेश मंत्रालय

2018-12-25 18:02:00

शिनच्यांग में स्थायित्व की रक्षा के कदमों पर निष्पक्ष रुख अपनाना चाहिये:चीनी विदेश मंत्रालय

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने 24 दिसंबर को कुछ पश्चिमी देशों से यह आग्रह किया कि उन्हें विचारधारा पक्षपात को छोड़कर चीन के शिनच्यांग प्रदेश में स्थायित्व की रक्षा के लिए उठाये गये कदमों पर निष्पक्ष रुख अपनाना चाहिये।

अमेरिकी अख़बार द वॉल स्ट्रीट जर्नल ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि बीते एक साल में चीन के शिनच्यांग में मुसलमानों के प्रति अन्यायपूर्ण कदम उठाये गये हैं और ऐसे कदम चीन के दूसरे मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में भी उठाये जाएंगे। चीनी विदेश प्रवक्ता ने इस बात का खंडन करते हुए कहा कि कुछ पश्चिमी देशों ने शिनच्यांग के सवाल पर मूल रूप से गलती की है कि उन्होंने चीन द्वारा अपनाये गये स्थायी कदमों को वेवुर जाति या मुसलमानों के खिलाफ कदम बताया है।

चीनी प्रवक्ता ने बल देकर कहा कि चीन आतंकवाद को किसी भी तय जाति या धर्म के साथ जोड़ने का विरोध करता है और यही चीन का सतत् रुख है। वेवुर जाति चीन की 56 जातियों में से एक है। शिनच्यांग में आतंकवादी और उग्रवादी विचारों से प्रभावित लोगों को व्यावसायिक प्रशिक्षण दिया जाता है। ऐसे प्रशिक्षण में वे भाषा, कानून और कौशल सीखकर आतंकवाद और धार्मिक उग्रवाद के नियंत्रण से छुटकारा पाएंगे और सामान्य समाज में वापस लौट सकेंगे। और इसमें यह भी चर्चित है कि चीन ने शिनच्यांग में निगरानी की कुछ सुविधाएं रखी हैं जो पश्चिमी देश भी कर रहे हैं। लेकिन पश्चिमी देशों की आंखों में इसे मानवाधिकार का उल्लंघन माना जाता है। यह दोहरा मापदंड ही है।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी