अफ्रीका में“वर्ष 2063 कार्यक्रम”की प्राप्ति के लिए चीन अपरिहार्य साझेदार है- अफ्रीकी संघ के प्रतिनिधि

2019-01-18 14:33:00

चीन अफ्रीका में शांति विकास के समर्थन के लिए दिए गए वचन का पालन करता है, वह अफ्रीका में“वर्ष 2063 कार्यक्रम”साकार करने का अपरिहार्य साझेदार है। पेइचिंग स्थित अफ्रीकी संघ के प्रतिनिधि रहमत अल्लाह मोहम्मद ओस्मान ने 17 जनवरी को चाइना रेडियो इन्टरनेशनल को दिए एक खास इन्टरव्यू में यह बात कही।

ओस्मान ने चीन-अफ्रीकी संघ संबंधों के विकास का सक्रिय आंकलन किया और कहा कि अफ्रीकी संघ चीन द्वारा प्रस्तुत“अफ्रीकी तरीके से अफ्रीकी मुद्दे का समाधान”वाले रुख को मानता है। चीन ने बहुपक्षीय ढांचे में अफ्रीकी संघ की सामूहिक सुरक्षा व्यवस्था के निर्माण का समर्थन किया और अफ्रीका में सामूहिक सुरक्षा की क्षमता और स्तर की उन्नति के लिए सक्रिय है। अफ्रीकी संघ चीन का आभार करता है।

ओस्मान ने कहा कि चीन दूसरे देश के अंदरूनी मामलों पर हस्तक्षेप नहीं करता, इस रुख पर व्यापक अफ्रीकी देशों का समर्थन मिला है। चीन-अफ्रीका सहयोग के विषयों में संस्कृति, विज्ञान, तकनीक और शिक्षा जैसे क्षेत्र शामिल हैं, जिससे अफ्रीका की क्षमता बढ़ेगी, और इस क्षेत्र में अनुमानित विकास लक्ष्य की प्राप्ति के लिए मददगार सिद्ध होगा।

ओस्मान ने यह भी कहा कि आने वाले 50 सालों में नए एकीकृत अफ्रीका की स्थापना के लिए अफ्रीकी संघ को प्रशासन और वित्त व्यवस्था में सुधार करना है, खास कर वित्तीय आत्मनिर्भरता और स्वतंत्र अनवरत विकास जैसे क्षेत्र में। चीन में सुधार और खुलेपन का सफल अनुभव अफ्रीकी देशों के लिए सीखने योग्य है।

यहां बता दें कि“वर्ष 2063 कार्यक्रम”अफ्रीकी संघ द्वारा 2015 में पारित भविष्य में अफ्रीका के विकास के लिए दूरगामी परियोजना है, इस दस्तावेज़ ने अफ्रीकी लोगों से समान मूल्य दृष्टि और समान भाग्य के आधार पर समृद्धि और एकता वाले अफ्रीका के निर्माण का आह्वान किया।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी