टिप्पणी:ब्रिटेन में रनमिनबी के ऑफशोर केंद्र की स्थापना

2019-02-20 17:05:00

गत वर्ष से चीन में आर्थिक मंदी का दबाव तथा चीन-अमेरिका व्यापार घर्षण की वजह से अंतर्राष्ट्रीय संपत्ति बाजार में चीनी मुद्रा रनमिनबी का पतन होने की आवाज़ सुनती रही। लेकिन ब्रिटेन में रनमिनबी के ऑफशोर केंद्र का निर्माण करने से उल्लेखनीय आय प्राप्त होने लगी है। रिपोर्ट है कि गत वर्ष के अंत तक लंदन बाजार में रनमिनबी का ट्रेडिंग वॉल्यूम यूरो और पाउंड के बीच व्यापार मात्रा से ज्यादा रहा। गत वर्ष के अक्तूबर में लंदन बाजार में रनमिनबी का औसत रोज़ाना ट्रेडिंग वॉल्यूम 73 अरब अमेरिकी डालर तक जा पहुंचा, जिससे ब्रिटेन का रनमिनबी के ऑफशोर केंद्र का स्थान स्पष्ट हुआ है।

वर्ष 2012 में लंदन में रनमिनबी का ऑफशोर केंद्र रखने की योजना बनायी गयी। इसी दौरान सिंगापुर, पेरिस, फ्रैंकफर्ट और लक्समबर्ग आदि शहरों ने भी रनमिनबी ऑफशोर केंद्र स्थापित करने की रुचि जतायी। लेकिन लंदन ने सिंगापुर और फ्रैंकफर्ट से आगे बढ़कर विश्व में सबसे बड़ा रनमिनबी ऑफशोर केंद्र बना है। रिपोर्ट है कि गत दिसंबर में विश्व में रनमिनबी लेनदेन का 36 प्रतिशत भाग लंदन में किया गया, जबकि फ्रांस और सिंगापुर का अनुपात केवल 6 प्रतिशत तक रहा। ब्रिटेन और चीन के बीच व्यापार रकम में रनमिनबी का अनुपात भी शीघ्र ही बढ़ता रहा है। और ब्रिटेन में भी प्रथम रनमिनबी संप्रभु बांड जारी किया गया। चीन और शांघाई शहर और लंदन के बीच वित्तीय सहयोग को भी गहराई में चलाया जा रहा है, जो रनमिनबी के अंतर्राष्ट्रीयकरण की प्रक्रिया में तेज़ी लायी जाएगी।

वर्ष 2018 से रनमिनबी के अंतर्राष्ट्रीयकरण की प्रक्रिया तेजी से आगे बढ़ रही है। गत दिसंबर तक विदेशी निवेशकों के पास कुल 150 खरब रनमिनबी बांड जमे हुए हैं, जिनका चालीस प्रतिशत भाग नया निवेश है। दूसरी तरफ अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष यानी आईएमएफ द्वारा रनमिनबी को विशेष आहरण अधिकार की मुद्रा टोकरी में डाले जाने के बाद चीन ने डर्जनों देशों के साथ मुद्रा स्वैप समझौते संपन्न किये। साठ से अधिक देशों ने रनमिनबी को अपने विदेशी मुद्रा भंडार में शामिल करा दिया। अधिकाधिक देशों ने निपटान और भुगतान में रेनमिनबी का इस्तेमाल करना शुरू किया है।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी