एक पट्टी एक मार्ग के मित्र समूह में शामिल हुआ इटली

2019-03-23 20:37:00

स्थानीय समयानुसार 23 मार्च की सुबह रोम के उपनगर में चीन और इटली दोनों सरकारों ने एक पट्टी एक मार्ग के निर्माण को आगे बढ़ाने के ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और इटली के प्रधानमंत्री गिउसेपे कोनते ने ज्ञापन की हस्ताक्षर रस्म में हिस्सा लिया। इसके साथ ही इटली पश्चिमी सात देशों के ग्रुप में चीन के साथ संबंधित सहयोग दस्तावेज पर हस्ताक्षर करने वाला पहला देश बन गया। एक पट्टी एक मार्ग का मित्र सर्कल का फिर विस्तार हुआ है।

चीन और इटली द्वारा जारी संयुक्त विज्ञप्ति के मुताबिक दोनों का यह मानना कि आपसी संपर्क को बढ़ावा देने में एक पट्टी एक मार्ग पहल की भारी गुंजाइश शक्ति है। दोनों पक्ष एक पट्टी एक मार्ग पहल के पैन यूरोप यातायात व परिवहन नेट को जोड़ने का समर्थन करते हैं। वे बंदरगाह, लॉजिस्टिक और समुद्री यातायात आदि के सहयोग को गहरा करेंगे।

2013 में शी चिनफिंग द्वारा पहली बार एक पट्टी एक मार्ग पहल प्रस्तुत करने के बाद चीन के साथ संबंधित सहयोग दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करने वाले देशों व अंतर्राष्ट्रीय संगठनों की संख्या 150 से ज्यादा हो चुकी है।

हाल में चीन एशिया में इटली का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार है। इटली यूरोपीय संघ में चीन का पांचवां बड़ा व्यापारिक साझेदार और पांचवां बड़ा प्रत्यक्ष निवेश स्रोत देश है। 2018 में दोनों के बीच व्यापारिक राशि 50 अरब अमेरिकी डॉलर से अधिक थी और द्विपक्षीय निवेश 20 अरब अमेरिकी डॉलर तक पहुंचा। चीन और इटली के बीच एक पट्टी एक मार्ग के सहनिर्माण के सहयोग दस्तावेज पर हस्ताक्षर करना द्विपक्षीय यथार्थ सहयोग के लिए और व्यापक विकास के मौके दे सकेगा।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी