टिप्पणी:"चाइना प्लान" से अनवरत विकास की नयी राह खुलेगी

2019-06-08 17:09:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 7 जून को सेंट पीटर्सबर्ग अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक मंच में भाषण देते हुए कहा कि अनवरत विकास मौजूदा वैश्विक समस्याओं को हल करने के लिए "स्वर्णिम चाबी" मानी जाती है। शी ने खुली और विविध विश्व अर्थव्यवस्था का विकास करना, समावेशी और खुशहाल समाज का निर्माण करना, और आदमी एवं प्रकृति सामंजस्य में रहने वाले सुंदर घर बनाना तीन सुझाव पेश कर पूरे विश्व के अनवरत विकास के लिए "चाइना प्लान" तैयार किया। शी के भाषण के प्रति मंच और अंतर्राष्ट्रीय मीडिया में गर्म प्रतिक्रियाएं रचित की गयी हैं।

वर्ष 2015 के सितंबर माह में संयुक्त राष्ट्र ने “2030 अनवरत विकास के लिए एजेंडा” पास कर 17 विकास लक्ष्य तय किये। बीते चार सालों में इस एजेंडा के कार्यांवयन में प्रगति पाने के साथ-साथ चुनौतियां भी सामने आयी हैं। एक तरफ नयी तकनीकी क्रांति से मानव के लिए बड़ा मौका तैयार किया गया है, दूसरी तरफ एकतरफावाद और संरक्षणवाद के रूझान से विभिन्न देशों के विकास को रोका जाता है। विश्व के सामने सौ सालों के लिए अभूतपूर्व परिवर्तन आने की स्थिति में राष्ट्रपति शी ने सेंट पीटर्सबर्ग अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक मंच में संयुक्त राष्ट्र संघ के अनवरत विकास एजेंडा के प्रति चीन की योजना प्रस्तुत की। शी ने अपने भाषण में खुलेपन का विस्तार करने, आर्थिक वैश्वीकरण को बढ़ावा देने तथा बहुपक्षीय व्यापार प्रणाली को बनाए रखने की कल्पना पर प्रकाश डाला। और कहा कि चीन दूसरे देशों के साथ 5जी तकनीक का साझा करने को तैयार है।

शी ने समाज विकास के दायरे में“सम्मिलित एवं समावेशी”का विचार पेश किया। वर्तमान दुनिया में अलग अलग देशों के भीतर खासकर विकासमान देशों और विकसित देशों के बीच विकास का असंतुलन होने की समस्याएं मौजूद हैं। अगर अपने देश को प्राथमिकता देने वाला विचार अपनाया जाए, तब तो सब का दरवाजा और रास्ता बन्द किया जाएगा। जिससे पूरे मानव के भविष्य को हानि पहुंचेगी। शी ने कहा कि चीन गरीबी उन्मूलन, रोजगार, स्वयंसेवक सेवा, परोपकारी और कमजोर वर्गों के हितों की रक्षा में निरंतर कोशिश करेगा। ताकि अंतर्राष्ट्रीय समाज के विकास के लिए उदाहरण तैयार कर सके।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी