टिप्पणीः फेडएक्स को कानूनी जांच के बाद कड़ी सज़ा मिलेगी

2019-08-18 19:13:00

दक्षिणी चीन के फूच्येन प्रांत की राजधानी फूचो शहर के पुलिस को हाल में रिपोर्ट मिली कि फूच्येन की एक खेल उपकरण कंपनी ने अमेरिका के फेडएक्स द्वारा पहुंचाए गए अमेरिकी ग्राहक का एक्सप्रेस पैकेज स्वीकार किया, जिसमें बंदूक मिली है। यह चीन के संबंधित विभाग द्वारा कानून के अनुसार फेडएक्स के खिलाफ मामला दाखिल करने के बाद पता चला एक और गंभीर गैर-कानूनी कार्यवाही है। चीन ने समय पर जांच की प्रक्रिया जारी की, जिससे न सिर्फ़ जनता की चिंताओं का जवाब दिया गया, बल्कि ग्राहकों के हित और सार्वजनिक सुरक्षा की गारंटी में चीन का दृढ़ संकल्प जाहिर हुआ है।

बंदूक नरसंहारक हथियार है। चीन बंदूक पर कड़ा नियंत्रण करता है। अनुमति के बिना बंदूक का निर्माण, क्रय-विक्रय या परिवहन समेत चीन का बंदूक प्रबंधन कानून का उल्लंघन करने वाली कार्रवाई की कानुन के अनुसार जिम्मेदारी की जांच-पड़ताल करना पड़ता है। चीन में व्यापार करने वाली किसी भी एक्सप्रेस कंपनी और इसके कर्मचारियों को संबंधित कानून और नियम का पालन करते हुए सुरक्षा जांच करने की आवश्यकता है, ताकि अपराधियों को मौका नहीं मिल सके। इसके साथ कानून का उल्लंघन कर अवैध बंदूक के परिवहन का रास्ता नहीं बना सकता।

फेडएक्स पिछले 30 वर्षों से चीन में व्यापार कर रहा है। इसे चीन के कानून और नियम को स्पष्ट रूप से जानना चाहिए और व्यवसाय के मानक का पालन करना चाहिए। लेकिन पिछले मई में अमेरिका सरकार द्वारा हुआवेई कंपनी को निर्यात पर नियंत्रण की इकाई सूची में शामिल दिए जाने क बाद फेडएक्स ने बार बार हुआवेई कंपनी के एक्सप्रेस पैकेज पर धोखे से चीज़ उड़ा ली। आशंका है कि वह जानबूझकर अमेरिका सरकार की सहायता करता है।

तथ्यों की जांच करने, ग्राहकों के अधिकार की रक्षा करने और व्यापार का वातावरण सुधारने के लिए चीन के संबंधित विभागों ने 1 जून को कानून के अनुसार फेडएक्स के खिलाफ मामला दाखिल किया, 14 जून को फेडएक्स (चीन) कपंनी को पूछताछ की सूचना पहुंचाई और 26 जुलाई को जांच का परिणाम जारी किया। पता चला कि हुआवेई कंपनी के एक्सप्रेस पैकेज को गलती से अमेरिका तक पहुंचाने का फेडएक्स का कथन तथ्यों के अनुरूप नहीं है। फेडएक्स पर हुआवेई के सौ से अधिक चीन पहुंचाने वाले एक्सप्रेस पैकेज रोकने का आरोप है। इसके साथ जांच में फेडएक्स के अन्य अवैध कार्रवाई का सुराग भी पता चला।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी