टिप्पणी : चीन ने विवेकतापूर्ण और संयमित रूख से अमेरिकी टैरिफ वृद्धि पर जवाबी हमला किया

2019-08-24 14:49:00

अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि कार्यालय द्वारा 3 खरब अमेरिकी डॉलर लागत वाली चीनी वस्तुओं पर दो चरण में 10 प्रतिशत अतिरिक्त टैरिफ लगाने के प्रति चीन ने 23 अगस्त को जवाबी हमला किया ।चीन ने अमेरिका से आयातित होने वाले 75 अरब अमेरिकी डॉलर लागत की वस्तुओं पर 10 प्रतिशत या 5 प्रतिशत अतिरिक्त टैरिफ लगाने की घोषणा की ,जो दो जत्थों में 1 सितंबर और 15 दिसंबर को लागू किया जाएगा ।इस के अलावा 15 दिसंबर से अमेरिका से आने वाले कारों और पुरजों पर स्थगित हुए 25 प्रतिशत और 5 प्रतिशत अतिरिक्त टैरिफ बहाल किया जाएगा ।

स्थानीय विश्लेषकों के विचार में अमेरिकी एकतरफावाद और व्यापार संरक्षणवाद के निपटारे में चीन को ऐसा जवाबी काररवाई करनी पड़ती है ।चीन की काररवाई समुचित और न्यायपूर्ण है ।चीन ने फिर ठोस कदम से यह साबित किया है कि कोई भी अधिकतम दबाव चीन के लिए कारगर नहीं होगा ।चीन जो जवाबी हमला कहता है ,वह जरूर करता है । चीन का उद्देश्य राष्ट्र और जनता के मूल हितों की सुरक्षा करना है ।

उल्लेखनीय बात है कि अमेरिकी प्राकृतिक तेल पहली बार चीन की कर वृद्धि सूची में शामिल कराया गया है ,जिस से अमेरिकी तेल कंपनी पर नुकसान पहुंचेगा ।इसे छोड़कर अमेरिकी वाहन कंपनी फिर व्यापार संघर्ष का शिकार बन जाएगी ।इस के अलावा चीन ने जन स्वास्थ्य से जुड़े कुछ अमेरिकी वस्तुओं को कर वृद्धि सूची के बाहर रखने का फैसला किया है ,जिस का लक्ष्य आम आदमी पर होने वाले कुप्रभाव कम करना है ।

चीन अमेरिका व्यापार मतभेद के प्रति चीन सहयोग से सुलझाना चाहता है ।लेकिन बड़े सैद्धांतिक मुद्दों पर चीन कतई रियायत नहीं करेगा ।अमेरिका को इस पहलू में गलत अनुमान नहीं लगाना चाहिए ।(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी