चीन, अफगानिस्तान और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों के बीच वार्ता आयोजित

2019-09-08 16:08:00

चीन, अफगानिस्तान और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों के बीच तीसरी वार्ता 7 सितंबर को पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में आयोजित हुई। चीनी विदेश मंत्री वांग यी, अफगानिस्तान के विदेश मंत्री सलाहुद्दीन रब्बानी और पाकिस्तान के विदेश मंत्री महमूद हुसैन कुरैशी ने वार्ता में भाग लिया।

वांग यी ने कहा कि विदेश मंत्रियों के बीच वार्ता शुरू होने के बाद तीनों देशों ने वार्ता की रणनीति, सुरक्षा और सहयोग की भूमिका निभाते हुए आपसी विश्वास गहराया, सहयोग बढ़ाया, सिलसिलेवार महत्वपूर्ण सहमति बनाई और सक्रिय उपलब्धियां हासिल कीं। अब दक्षिण एशिया की स्थिति में गहरा और जटिल परिवर्तन हो रहा है। अमेरिका और अफगान तालिबान के बीच शांति वार्ता में प्रगति हुई। अफगानिस्तान में शांति और सलाह में अहम अवसर सामने आया। ऐतिहासिक कारणों से पीछे छूट गए मामले बिगड़े, जिससे क्षेत्रीय शांति पर असर पड़ा। दुनिया में एकतरफावाद, संरक्षणवाद और धौंस जमाने के व्यवहार सक्रिय बने रहे। विकासशील देशों के हितों के सामने खतरे और चुनौतियां मौजूद हैं।

वांग यी ने कहा कि चीन, अफगानिस्तान और पाकिस्तान की क्षेत्रीय शांति और स्थिरता बनाए रखने और स्थाई शांति साकार करने की इच्छा है। तीनों देश बेल्ट एंड रोड का निर्माण व क्षेत्रीय अंतःसंबधन बढ़ाना चाहते हैं और अनवरत विकास करने व लोगों का जीवन सुधार की अपेक्षा रखते हैं। तीनों देशों को इस दिशा में समान कोशिश करनी चाहिए।

सलाहुद्दीन रब्बानी और महमूद कुरैशी ने वार्ता के जरिए राजनीतिक विश्वास, सलाह, सहयोग, संपर्क, आतंकवाद विरोधी में हुई प्रगति की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान और पाकिस्तान चीन के साथ संपर्क मजबूत कर आर्थिक, व्यापारिक और सांस्कृतिक सहयोग के साथ बेल्ट एंड रोड का निर्माण बढ़ाना चाहते हैं और एक साथ पूर्वी तुर्किस्तान संगठन समेत आतंकवादी शक्तियों का विरोध करेंगे, ताकि क्षेत्रीय शांति, स्थिरता और विकास हो सके।

(ललिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी