ल्हासा : तिब्बती भिक्षुओं भिक्षुणियों की हस्तलिपि प्रदर्शनी आयोजित

2019-09-17 16:09:00

चीन लोक गणराज्य की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ मनाने के लिए 16 सितंबर को तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की राजधानी ल्हासा में सौ तिब्बती भिक्षुओं और भिक्षुणियों की हस्तलिपि की प्रदर्शनी आयोजित हुई।

प्रदर्शनी में भाग ले रहे लिनचोउ कांउटी के तालोंग मठ में 22 वर्षीय जीवित बुद्ध श्याचोंग ने कहा कि तिब्बती जाति की पारंपरिक हस्तलिपि की प्रदर्शनी नए चीन की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ के लिए एक खास उपहार है। वे हस्तलिपि के माध्यम से अपनी शुभकामनाएं देना चाहते हैं। जीवित बुद्ध श्याचोंग ने तिब्बती भाषा में“चीनी राष्ट्र एक परिवार, समान रूप से चीनी स्वप्न का निर्माण”वाले शब्द लिखे।

बताया गया है कि मौजूदा प्रदर्शनी में सौ से ज्यादा भिक्षुओं और भिक्षुणियों की हस्तलिपि शामिल हुई। तिब्बत की आठ कांउटियों में मठों के अलावा, जोखांग मठ, ड्रेपुंग मठ और गेनदन मठ आदि सुप्रसिद्ध मठों के आचार्यों और जीवित बुद्धों की भागीदारी भी आमंत्रित की गयी। उन्होंने तिब्बती पारंपरिक सांस्कृतिक तरीके से देशभक्ति भावना व्यक्त की।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी