भारतीय नागरिक:भारत-चीन संबंध के स्वस्थ स्थिर विकास की प्रतीक्षा

2019-10-13 19:05:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच महामुलाकात 12 अक्तूबर को सफलतापूर्वक संपन्न हुई। भारतीय समाज ने इस महामुलाकात पर बड़ा ध्यान दिया और उच्च मूल्यांकन किया। भारतीय नागरिकों को आशा है कि दोनों देशों के संबंध का स्वस्थ और स्थिर विकास साकार हो सकेगा।

भारतीय“न्यूज़ मोबाइल”वैबसाइट के संस्थापक और मुख्य संपादक सौरभ शुक्ला के लिए इधर के दिन बहुत व्यस्त भरे हैं। दोनों नेताओं के बीच महामुलाकात के पूर्व “न्यूज़ मोबाइल”ने कुछ दिन कई रिपोर्टें पेश कीं और बड़ी संख्या में न्यू मीडिया वाले उत्पाद बनाये। शुक्ला के विचार में इस प्रकार की व्यस्तता से मौजूदा महामुलाकात के प्रति भारतीय मीडिया का उच्च ध्यान जाहिर हुआ। उन्होंने कहा:“मेरा विचार है कि भारत-चीन संबंध बहुत महत्वपूर्ण है। मुझे लगता है कि मौजूदा महामुलाकात मील के पत्थर वाला अर्थ मौजूद है। हमने देखा कि प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति शी चिनफिंग के स्वागत के लिए लाल कालिन बिछाया। हम जानते हैं कि भारत में केवल महत्वपूर्ण दोस्त के लिए लाल कालिन बिछाया जाता है। जाहिर है कि प्रधानमंत्री मोदी राष्ट्रपति शी चिनफिंग को अपना पुराना दोस्त मानते हैं। मुझे आशा है कि मौजूदा मुलाकात से दोनों देशों के बीच पारस्परिक सम्मान और विश्वास मजबूत होगा और द्विपक्षीय संबंध के विकास का नया अध्याय जोड़ा जाएगा। मेरा विचार है कि मौजूदा महामुलाकात से अच्छी रासायनिक प्रतिक्रिया पैदा होगी।”

पांडिचेरी में भारत-चीन मैत्री संघ के संस्थापक और महासचिव डॉक्टर दास बिकासकली ने भारतीय मीडिया पर मौजूदा महामुलाकात के सभी सीधा प्रसारण देखा। वे बेहद उत्साहित हैं और गर्व भी महसूस होता है। उन्होंने कहा:“मैंने देखा कि दोनों देशों के नेता मुलाकात के दौरान हमेशा मुस्करा रहे थें। यह दोनों नेताओं के हाथ मिलाकर भारत-चीन संबंध को आगे बढ़ाने का सक्रिय संकेत है। हमें पक्का विश्वास है कि दोनों नेता अच्छी तरह यह कर सकेंगे। गत वर्ष वूहान में हुई महामुलाकात के बाद चीनी और भारतीय सरकारी संस्थाओं के बीच आदान-प्रदान और सहयोग ज्यादा तौर पर बढ़े हैं। मुझे आशा है कि मौजूदा मुलाकात के बाद दोनों देशों के गैर-सरकारी संगठनों के बीच आदान-प्रदान और सहयोग में पर्याप्त विकास प्राप्त हो सकेगा। क्योंकि गैर-सरकारी संगठन भारत-चीन संबंध के भावी विकास के दौरान बहुत बड़ी भूमिका निभा सकेंगे।”

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी