लूहुहो काउंटी में थांगका कला के संरक्षण पर जोर

2017-09-22 09:30:21

दक्षिणी पश्चिम चीन में सछ्वान प्रांत के कांजी तिब्बती स्वायत्त क्षेत्र के लूहुहो काउंटी में थांगका कला के संरक्षण और युवा कलाकारों के प्रशिक्षण में भारी जोर दिया जा रहा है।

लूहुहो काउंटी सांस्कृतिक भवन और लांगखाचिए थांगका कला संघ के अध्यक्ष योंग चूलुओ वू ने कहा कि मौजूदा समय में थांगका चित्र एक उद्योग बन गया है। बहुत से स्थानीय चरवाहों ने भी थांगका चित्र के विकास में भाग लिया है जिससे गरीब परिवारों को रोजगार का मौका मिला है। थांगका के विकास से गरीबी उन्मूलन में लाभ हो रहा है।

तिब्बती जाति के योंग चूलुओ वू ने कहा, “एक थांगका चित्रित करने में कई महीने और यहां तक कई साल लग जाते हैं। थांगका की कीमत कई हजार युवान से लेकर कई लाख युवान तक के होते हैं। थांगका चित्रकारों की वार्षिक आय एक लाख युवान से भी अधिक होती है।”

योंग चूलुओ वू एक थांगका प्रशिक्षण केंद्र के प्रमुख भी हैं, जिसमें 80 तिब्बती छात्र हैं, जो यहां थांगका चित्र कला सीखते हैं और उनके लिए आवास और खानपान आदि सब निशुल्क हैं। यहां थांगका चित्रकला के अलावा अंग्रेजी, चीनी भाषा, और तिब्बती भाषा की भी क्लास होती हैं।

योंग चूलुओ वू ने कहा, “थांगका चित्रकला का 3 साल का कोर्स खत्म करने के बाद छात्रों को प्रमाण-पत्र दिया जाता है, जहां वो आगे विश्वविद्यालय व कॉलेज में दाखिला ले सकते हैं। जो छात्र आगे भी थांगका चित्रकला में अध्ययन करना जारी रखते हैं, उन्हें और आगे 3 साल को कोर्स करवाया जाता है। स्नातक होने के बाद थांगका निर्माण करने वाली कंपनी उन्हें नौकरी पर रख लेती हैं।”

(अखिल पाराशर)

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी