शी चिनफिंग और पंग लीयुए की प्रेम कहानी

2018-05-20 17:45:03

विश्व में चीनी नेटिजनों की संख्या सर्वाधिक है, जिसमें मोबाइल फोन से इंटरनेट सर्विंग करने वालों की संख्या 75 करोड़ से अधिक है। मौजूदा समय में 20 मई चीन में एक नया त्याहोर बन गया है, क्योंकि चीनी भाषा में 5-20 का उच्चारण “वो-आए-नी” यानी “मैं तुमसे प्रेम करता हूं” से मिलता-जुलता है। चीनी नेटिजन 20 मई को साइबर युग में प्रेम का त्योहार मनाते हैं। मौजूदा साल इस त्योहार के मौके पर हम चीनी सर्वोच्च नेता शी चिनफिंग और उनकी पत्नी पंग लीयुएं की प्रेम कहानी का परिचय देंगे।

प्रेम का मतलब है कि आप के साथ सब अच्छा हो

1987 में शी चिनफिंग और पंग लीयुएं फ्यूच्येन के तुंगशान द्वीप पर

सितंबर 1987 में शी चिनफिंग और पंग लीयुएं की शादी हुई। उन्होंने कोई भव्य समारोह का आयोजन नहीं किया और सिर्फ अपने सहकर्मियों और दोस्तों को दावत दी और कुछ मिठाइयां तैयार करवायीं। पर एक दूसरे के प्रति जो प्रेम है, वो कभी खत्म नहीं होता है। यही सुख है।

प्रेम का मतलब है कि एक दूसरे का ख्याल रखना

विवाह के बाद एक वरिष्ठ अधिकारी के रूप में शी चिनफिंग अकसर बाहर जाते थे, जबकि सेना में एक महशूर गायिका होने के नाते पंग लीयुएं प्रदर्शन में व्यस्त रहती थीं। उनके लिए एकसाथ रहने का समय ज्यादा नहीं थे, लेकिन वे एक दूसरे को अच्छी तरह समझते थे और एक दूसरे का ख्याल रखते थे।

सितंबर 1989 में शी चिनफिंग और पंग लीयुएं

उस समय शी चिनफिंग फूच्येन प्रांत में कार्यरत थे, जहां सर्दी में बहुत ज्यादा ठंड रहती है। पंग लीयुएं ने अपने हाथ से उनके लिए एक रज़ाई की सिलाई की। जब चीन का सबसे बड़ा त्योहार वसंत त्योहार आता था और पंग लीयुए राष्ट्रीय टीवी स्टेशन के सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेती थीं, तो शी चिनफिंग घर में च्योजी यानी डंप्लिंग बनाकर उनका इंतजार करते थे।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी