शी चिनफिंग ने जर्मन चांसलर मार्केल के साथ वार्ता की

2018-05-25 11:35:19

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 24 मई को पेइचिंग स्थित जन बृहद भवन में जर्मनी की चांसलर एंजेला मार्केल के साथ वार्ता की।

शी चिनफिंग ने मार्केल का उनकी 11वीं चीन यात्रा का स्वागत किया और उनके द्वारा चीन-जर्मनी संबंध को दिए गए महत्व की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि 2014 में चीन और जर्मनी के बीच चतुर्मुखी रणनीतिक साझेदारी संबंध स्थापित हुए हैं, इसके बाद से लेकर अब तक द्विपक्षीय संबंधों में पर्याप्त विकास हुआ है, सहयोग की व्यापकता और गहराई अभूतपूर्व स्तर पर पहुंच गई है। चीन जर्मनी के साथ मिलकर द्विपक्षीय संबंधों को नयी ऊँचाइयों पर ले जाने को तैयार है।

शी चिनफिंग ने बल देते हुए कहा कि चीन और जर्मनी को सहयोग और उभय जीत वाली आदर्श मिसाल, चीन-यूरोप संबंध के नेता, नए अंतरराष्ट्रीय संबंघों को बढ़ाने के संवर्धक, और विचारधारा की भिन्नता को पार करने वाले सहकर्ता बनना चाहिए। दोनों पक्षों को उच्च स्तरीय घनिष्ठ आवाजाही को बरकरार रखते हुए द्विपक्षीय संबंध में टॉप डिज़ाइन को मज़बूत करना चाहिए। विभिन्न क्षेत्रों में आदान-प्रदान और सहयोग को प्रोत्साहन करते हुए अच्छी तरह बातचीत करना चाहिए। दोनों देशों को भविष्य के औद्योगिक क्षेत्रों में अधिक सहयोग करते हुए त्रि-पक्षीय बाज़ार का समान रूप से विस्तार करना चाहिए। मानविकी सहयोग के आधार पर मित्रवत संबंधों को मज़बूत करना चाहिए। अपने उत्तरदायित्व और जिम्मेदारी उठाते हुए विभिन्न वैश्विक चुनौतियों का समान रूप से मुकाबला करना चाहिए। चीन“बेल्ट एंड रोड”प्रस्ताव के समर्थन पर जर्मनी का प्रशंसक है और इसमें जर्मनी की सक्रिय भागीदारी का भी स्वागत करता है।

चांसलर मार्केल ने कहा कि वे फिर से चीन की यात्रा करने पर बहुत खुश हैं। जर्मनी चीन संबंध नये युग में दाखिल हुआ है। जर्मनी चीन के साथ व्यापारिक और सांस्कृतिक आवाजाही का विस्तार करना और अंतरराष्ट्रीय मामलों में चीन के साथ सलाह मश्विरा मज़बूत करना चाहता है। इसके साथ ही चीन-यूरोप संबंध को आगे बढ़ाने में जर्मनी भी सक्रिय है।

भेंट वार्ता में शी चिनफिंग और मार्केल ने अंतरराष्ट्रीय व्यापार और ईरानी परमाणु मुद्दे जैसे समान चिंता वाले मामलों को लेकर विचारों का भी आदान-प्रदान किया।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी