चीनी विशेषता वाले बड़े देश की नई कूटनीतिक स्थिति का निर्माण किया जाए - शी चिनफंग

2018-06-23 21:10:59

चीनी विशेषता वाले बड़े देश की नई कूटनीतिक स्थिति का निर्माण किया जाए - शी चिनफंग

चीनी केंद्रीय विदेशी मामला कार्य सम्मेलन 22 से 23 जून तक पेइचिंग में आयोजित हुआ। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने सम्मेलन में महत्वपूर्ण भाषण दिया। उन्होंने बल देते हुए कहा कि देश में विदेशी मामला कार्य को नए युग में चीनी विशेषता वाले समाजवादी कूटनीतिक विचारधारा के तहत देशीय और अंतरराष्ट्रीय स्थिति का समन्वय किया जाना जरूरी है। राष्ट्र के पुनरुत्थान और मानव की प्रगति के आधार पर मानव जाति के साझे भाग्य समुदाय के निर्माण को आगे बढ़ाया जाए। राष्ट्रीय प्रभूसत्ता, सुरक्षा, विकास के हितों की रक्षा की जाए। वैश्विक शासन व्यवस्था के सुधारीकरण में सक्रिय रूप से भाग लेते हुए, वैश्विक साझेदार संबंधों के नेटवर्क का निर्माण किया जाए। ताकि चीनी विशेषता वाले बड़े देश की नई कूटनीतिक स्थिति स्थापित कर देश में खुशहाल समाज का निर्माण, समाजवादी आधुनिकीकरण वाले शक्तिशाली देश को संपूर्ण बनाने के लिए अनुकूल स्थिति तैयार की जा सके।

शी चिनफिंग ने अपने भाषण में कहा कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की 18वीं राष्ट्रीय कांग्रेस के आयोजन के बाद से लेकर अब तक अंतरराष्ट्रीय परिस्थिति में जटिलपूर्ण परिवर्तन आ रहा है। देश में विदेशी मामला कार्य में चुनौतियों से निपटने के साथ-साथ कई ऐतिहासिक उपलब्धियां हासिल हुईं। अब नए युग में चीनी विशेषता वाले समाजवादी कूटनीतिक विचारधारा कायम हुई है।

शी चिनफिंग ने कहा कि अब चीन विकास के सबसे अच्छे काल से गुज़र रहा है। हमें अंतरराष्ट्रीय स्थिति में आए परिवर्तन का विश्लेषण करते हुए देश के बाह्य वातावरण को समझना चाहिए, ताकि समन्वय तौर पर विदेशी मामला कार्य को आगे बढ़ाया जा सके। व्यापक विकासशील देश अंतरराष्ट्रीय मामलों में चीन का प्राकृतिक साझेदार हैं। हमें विकासमान देशों के साथ एकता के साथ आगे बढ़ना चाहिए। इसके साथ ही चीन और विश्व के बीच आदान-प्रदान, एक दूसरे से सीखने की प्रवृत्ति को भी मजबूत करना चाहिए।

(श्याओ थांग)

 

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी