चीनी पर्यटकों को लुभाते भारतीय पर्यटक आयोजक

2018-09-10 12:38:00

चीनी पर्यटकों को लुभाते भारतीय पर्यटक आयोजक

चीनी पर्यटक दुनिया भर में घूमने के लिये जाने जाते हैं, चीनी लोगों में ये बदलाव पिछले दस से पंद्रह वर्ष में देखने को मिला है, जैसे जैसे चीन की आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होती जा रही है वैसे ही चीनी लोग दुनिया भर में घूमने लगे हैं, फिर चाहे वो देश अमेरिका, कनाडा, यूरोप हों या फिर लातिन अमेरिका, अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और भूमध्य सागरीय देश, इसके साथ ही आप चीनी पर्यटकों की भारी तादाद दक्षिण पूर्वी एशियाई देशों में भी पाएंगे।

वैश्विक पर्यटक में चीनी पर्यटकों की बढ़ती धमक को देखते हुए पड़ोसी देश भारत ने भी अपने पड़ोसी पर्यटकों को लुभाने के लिये एक दल चीन भेजा जिसकी अध्यक्षता भारत के पर्यटन राज्यमंत्री श्री के जे अल्फोन्स ने की, उनके साथ कई पर्यटक आयोजन दल के मुखिया और व्यापारी भी चीनी पर्यटकों को लुभाने के लिये आए, इन्हीं में से एक हैं विशाल यादव जो इंक्रेडिबल डेस्टिनेशन्स मैनेजमेंट सर्विसेज़ प्राइवेट लिमिटेड के मालिक हैं। विशाल यादव का कहना है कि पड़ोसी देश होने के नाते हम चाहेंगे कि ज्यादा से ज्यादा चीनी पर्यटक भारत घूमने आएं। विशाल ने बताया कि यहां भाषा की परेशानी ज़रूर है लेकिन सिर्फ़ इसलिये इतने बड़े बज़ार को छोड़ा नहीं जा सकता, दुभाषिये की मदद से काम किया जा सकता है, उन्होंने आगे कहा कि चीनी पर्यटक दुनिया में संख्या के आधार पर पहले नंबर पर आते हैं, और अगर हम नंबर दो, तीन और चार को जोड़ लें तो भी अकेले चीनी पर्यटकों की संख्या इनसे कहीं ज्यादा है।

चीनी पर्यटकों को लुभाते भारतीय पर्यटक आयोजक

चीनी पर्यटक अधिकतर बौद्ध तीर्थ स्थलों की यात्रा करते हैं जिनमें औरंगाबाद, अजंता एलोरा, सारनाथ, बोध गया, लुंबिनी, कपिलवस्तु, श्रावस्ति आते हैं साथ ही ये पर्यटक लेह, लद्दाख और श्रीनगर की यात्रा भी करते हैं।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी