चीन-भारत संबंधों की डोर मजबूत करेगी हिंदी पत्रिका ‘समन्वय हिंची’

2019-01-08 16:03:00

चीन-भारत संबंधों की डोर मजबूत करेगी हिंदी पत्रिका ‘समन्वय हिंची’

हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार के उद्देश्य से चीन में एक हिंदी पत्रिका का प्रकाशन हो रहा है।‘समन्वय हिंची’ नामक इस पत्रिका में भारतीय एवं चीनी विद्वानों, लेखकों, अध्यापकों, पत्रकारों एवं विद्यार्थियों की चीन और भारत के साहित्य, संस्कृति, उद्योग, विज्ञान, तकनीक, व्यापार सहित तात्कालिक महत्व के सामाजिक विषयों पर लेख, यात्रा संस्मरण, कहानियां, फीचर आदि रचनाएं शामिल की गयी हैं। जिसमें चीन की महिलाएं, चीन के खेल, चीन में ट्रेन, योग, चीन में हिंदी अध्ययन, चाईना रेडियो, सांस्कृतिक आदान प्रदान, सांस्कृतिक विभिन्नताएँ और भारत चीन के रिश्तों से जुड़े कई तरह के लेख हैं। इसके साथ ही पत्रिका में दो उपन्यास अंश भी शामिल किए गए हैं। वहीं चीन के विभिन्न शहरों के परिचयात्मक और निजी अनुभवों से जुड़े आलेख और भारतीय संस्थाओं, भारतीय कॉन्सुलेट शंघाई की गतिविधियों को भी पत्रिका में स्थान दिया गया है।

चीन-भारत संबंधों की डोर मजबूत करेगी हिंदी पत्रिका ‘समन्वय हिंची’

गौरतलब है कि अंग्रेजी और अन्य विदेशी भाषाओं में चीन और भारत के बारे में काफी सामग्री मौजूद है, लेकिन हिंदी में इसकी कमी लगती है। हालांकि पिछले कुछ वर्षों से चीन में हिंदी का महत्व काफी बढ़ा है। वर्तमान में चीन के 16 विश्वविद्यालयों में हिंदी पढ़ाई जा रही है, जिनमें बड़ी संख्या में चीनी छात्र हिंदी भाषा का अध्ययन करते हैं।

पत्रिका के प्रधान संपादक प्रोफेसर नवीन लोहनी के मुताबिक लंबे समय से इस तरह की हिंदी पत्रिका की जरूरत महसूस की जा रही थी, जो एशिया की दो पड़ोसी ताकतों के संबंधों को बेहतर बनाने में अहम भूमिका निभा सके। हालांकि यह पहला प्रयास है, भविष्य में पत्रिका को और आकर्षक रूप दिया जाएगा। उम्मीद है कि इस पत्रिका के माध्यम से भारत और चीन दोनों देशों के लोगों में एक-दूसरे के प्रति समझ और सद्भाव बढ़ेगा।

पत्रिका के प्रधान संपादक नवीन लोहनी हैं, जबकि पत्रिका के संपादक मंडल में पेकिंग विश्वविद्यालय के प्रो. च्यांग चिंगख्वेई के अलावा रॉन पिन, पल्लवी गोरे, अनीता शर्मा, राजीव रंजन, रीना गुप्ता शामिल हैं।

हिंदी इन चाइना समूह द्वारा निकाली जा रही इस पत्रिका के मुख पृष्ठ और पत्रिका के संबंध में जानकारी प्रवासी भारतीय दिवस और विश्व हिंदी दिवस की पूर्व संध्या पर आयोजित कार्यक्रम में 9 जनवरी को शंघाई स्थित भारतीय कौंसलावास के प्रधान कौंसुल अनिल कुमार राय द्वारा जारी की जाएगी।

अनिल आजाद पांडेय

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी