चीन में“टॉयलेट क्रांति” पर जोर, पर्यटन पर्यावरण में सुधार

2019-01-25 17:02:00

चीन के शहरों और देहातों में सार्वजनिक टॉयलेट अधिक से अधिक साफ़, पर्यावरण संरक्षण और सुन्दर हो रहे हैं। विभिन्न स्थलों में शौचालय की स्थिति में परिवर्तन आया है, जिससे राष्ट्रीय गारंटी और जन जीवन में सुधार से संबंधित बंदोबस्त जाहिर हुआ। इसके साथ ही “टॉयलेट क्रांति” के दौरान सृजनात्मक तकनीक का प्रयोग भी किया जा रहा है, इससे “टॉयलेट क्रांति” में अधिक समर्थन भी मिला है।

वर्तमान में चीन के कई पर्यटन स्थलों में सार्वजनिक टॉयलेट का नया रूप सामने आया है। इससे न केवल पर्यटकों को बड़ी सुविधा मिली है, बल्कि सामाजिक सभ्यता भी उन्नत हुई है।

दक्षिण चीन के फूच्येन प्रांत के श्यामन शहर में कुलांगय्वी पर्यटन क्षेत्र बहुत लोकप्रिय है, जहां 20 हज़ार से ज्यादा लोग निवास करते हैं और रोज़ 30 हज़ार से अधिक पर्यटक आते हैं। पर्यटन स्थल का क्षेत्रफल कम होने और आने वाले यात्रियों की संख्या अधिक होने के कारण कुलांगय्वी में टॉयलेट की स्थिति में सुधार के लिए ज्यादा मांग पेश की गई। इधर के सालों में कुछ टॉयलेटों में नयी तकनीक का इस्तेमाल कर जल किफायत और प्रदूषित वस्तुओं की निकासी पर जोर दिया गया, जिससे पर्यावरण प्रदूषण कम हुआ

चीन के कुछ ग्रामीण क्षेत्रों में टॉयलेट की स्थिति में बड़ा परिवर्तन भी आया है। हर एक किसान परिवार में टॉयलेट उपलब्ध है, गांवों में सार्वजनिक शौचालय साफ़ किया जाता है। देहातों में शौचालय के परिवर्तन से गांव वासियों के रहने की स्थिति में सुधार आया है।

बताया गया है कि भविष्य में चीन ग्रामीण क्षेत्रों में “टॉयलेट क्रांति” के दौरान पूंजी गारंटी, तकनीक समर्थन और सरकारी मार्गदर्शन को मजबूत करेगा, गांवों में शौचालय को सुधारने वाले मामले को पारिस्थितिक और पर्यावरण संरक्षण की निगरानी और जांच दायरे में शामिल करेगा।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी