बर्फीले पठार की रोशनी छंगदू थांगका कला प्रदर्शनी फ़ूज़ौ शहर में आयोजित

2019-02-02 18:03:00

बर्फीले पठार की रोशनी छंगदू थांगका कला प्रदर्शनी 1 फरवरी को चीन के फ़ुज़ियान प्रांत के फ़ूज़ौ शहर में खुली हुई।

फ़ुज़ियान प्रांत के संस्कृति और पर्यटन विभाग के तत्वावधान में तिब्बत के छंगदू शहर के संस्कृति विभाग और फ़ुज़ियान प्रांत के कला संग्रहालय (फ़ुज़ियान प्रांत के अमूर्त सांस्कृतिक विरासत रक्षा केंद्र) की सहायता में यह प्रदर्शनी आयोजित हुई।

थांगका चित्र कला चीन की तिब्बती जातीय संस्कृति का सार माना जाती है और थांगका तिब्बती जातीय संस्कृति की जानकारी प्राप्त करने की कुंजी भी है। इसका इतिहास 13 हजार साल पुराना बताया जाता है।

बताया जाता है कि इस प्रदर्शनी में छंगदू की विशेषता वाले 40 थांगका प्रदर्शित किए गए हैं। ये थांगका देखकर लोगों को तिब्बत में सामाजिक जीवन और पारंपरिक तिब्बती चिकित्सा की जानकारी मिल सकेगी।

इस प्रदर्शनी में न केवल अमूर्त सांस्कृतिक विरासत के चीनी राष्ट्रीय विरासत कामाडेले समेत थांगका गुरु की कृतियां बल्कि युवा उत्कृष्ट थांगका चित्रकारों और छंगदू थांगका के विकास में गरीबी उन्मूलन परियोजना की प्रतिनिधि कृतियां प्रदर्शित की गयी हैं।

इस प्रदर्शनी में पर्यटक गाइड से थांगका से संबंधित बुनियादी जानकारी और कृतियों के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। साथ ही वे क्यूआर कोड स्कैन कर हर प्रदर्शित थांगका चित्र का परिचय हासिल कर पाएंगे। इसके अलावा वे थांगका चित्रकारों के साथ थांगका बनाने का आनंद ले सकेंगे।

(हैया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी