चीनी नागरिकों की आय निरंतर बढ़ रही है

2019-07-08 17:16:00

चीनी राजकीय सांख्यिकी ब्यूरो द्वारा जारी ताज़ा रिपोर्ट के अनुसार नये चीन की स्थापना के 70 वर्षों में चीनी नागरिकों की आय निरंतर बढ़ती रही है और उपभोग का स्तर उन्नत होता रहता है। चीनी जनता ने खाने और कपड़े की किल्लत को दूर कर प्रारंभिक खुशहाल समाज स्थापित किया है। अब चीनी जनता सर्वांगीण खुशहाल समाज की ओर बढ़ रहा है। रिपोर्ट से ज़ाहिर है कि वर्ष 2018 में प्रति व्यक्ति का औसत उपभोग खर्च 19 हज़ार 8 सौ 53 युआन था, जो वर्ष 1978 से 19.2 गुणे से अधिक हो गया।

आंकड़ों के अनुसार नये चीन की स्थापना के समय चीनी नागरिकों की आय और खर्च बहुत निचले स्तर पर था। वर्ष 1956 में देश में प्रति व्यक्ति औसत आय सिर्फ़ 98 युआन थी और प्रति व्यक्ति औसत खर्च सिर्फ 88 युआन था। आबादी की तेज़ वृद्धि और संचयन, उपभोग के अनुचित संबंध के कारण वर्ष 1978 में देश में प्रति व्यक्ति औसत आय सिर्फ़ 171 युआन थी, जबकि प्रति व्यक्ति औसत खर्च 151 युआन था। सुधार और खुलेपन की नीति लागू होने से तेज़ आर्थिक विकास के साथ साथ शहरी और ग्रामीण नागरिकों की आय में लगातार बढ़ोतरी रही। वर्ष 2018 में प्रति व्यक्ति औसत आय 28 हज़ार 2 सौ 28 युआन रही, जो वर्ष 1978 से 24.3 प्रतिशत बढ़ी। आय बढ़ने के साथ चीनी नागरिकों का उपभोग भी तेज़ी से बढ़ता रहा और उपभोग ढांचे की उन्नति का रुझान नज़र आ रहा है।

चीनी वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2018 में चीन में समग्र समाज की उपभोग वस्तुओं की फुटकर बिक्री रकम 381 खरब युवान दर्ज हुई, जो पिछले साल की अवधि से 9 प्रतिशत अधिक थी। चीन स्थिरता के साथ विश्व के सबसे बड़े वस्तु उपभोग देश की ओर बढ़ रहा है। वर्ष 2018 में शहरों और कस्बों में औसतन एक सौ परिवारों में कारों और रंगीन टीवी की संख्या अलग अलग तौर पर 41 और 121.3 थी। ग्रामीण क्षेत्रों में औसतन सौ परिवारों में कारों और रंगीन टीवी की संख्या संख्या क्रमशः 22.3 और 116.6 प्रतिशत थी, जो सुधार और खुलेपन के शुरुआती समय से बड़े पैमाने पर बढ़ी।

(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी