“ह्वेनत्सांग की तीर्थ यात्रा”शीर्षक वाद्ययंत्र ओपेरा वाशिंगटन में आयोजित

2019-01-30 09:32:00

चीनी केंद्रीय जातीय संगीत दल का वाद्ययंत्र ओपेरा“ह्वेनत्सांग की तीर्थ यात्रा”का प्रदर्शन कुछ दिन पहले अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन स्थित द जॉन एफ. कैनेडी सेंटर फॉर द परफॉर्मिंग आर्ट्स में हुआ, जो कि संगीत और वाद्ययंत्र के माध्यम से महाभिक्षु ह्वेनत्सांग की भारत में तीर्थ यात्रा की कहानी सुनाई गई। अमेरिकी दर्शक चीनी जातीय संगीत और संस्कृति का लुत्फ़ उठाया।

इस ओपेरा की महानिदेशक, युवा संगीतकार च्यांग यिंग ने जानकारी देते हुए कहा कि वाद्ययंत्र ओपेरा एक नयी चीज़ है, जिसकी विशेषता यह है कि वाद्ययंत्र बजाने वाले संगीतकार ओपेरा के अभिनेता और अभिनेत्री भी हैं। उनका कहना है:“नाटक अभिनेता के संवाद के माध्यम से कहानी सुनाता है, वहीं संगीत ओपेरा गीत गाने और नाचने से कहानी सुनाता है। लेकिन वाद्ययंत्र ओपेरा उनसे अलग है, जिसमें अभिनेता-अभिनेत्री का वाद्ययंत्र बजाना, उनके कुछ डायलाग और आंशिक शारीरिक अभिनय शामिल हैं। इस तरह वाद्ययंत्र ओपेरा में सभी अभिनेता-अभिनेत्री वाद्ययंत्र बजाने वाले हैं।”

वाद्ययंत्र ओपेरा“ह्वेनत्सांग की तीर्थ यात्रा”में युवा ह्वेनत्सांग का पात्र निभाने वाला अभिनेता तीन श्याओख्वेइ है, जो चीनी केंद्रीय जातीय संगीत दल के बांसुरी बजाने वाले संगीतकार हैं। उन्होंने कहा कि इस पात्र की अच्छी प्रस्तुति के लिए उन्होंने भाषा बोलने, शारीरिक अंग का प्रदर्शन करने आदि क्षेत्र में बड़ी मेहनत की, ताकि अमेरिकी दर्शक ह्वेनत्सांग की कहानी जानकर उनकी भावना महसूस कर सकें और साथ ही साथ रेशम मार्ग पर ऐतिहासिक संस्कृति का अनुभव भी कर सकें। तीन श्याओख्वेइ ने कहा:

“मुझे आशा है कि अमेरिकी दर्शक‘ह्वेनत्सांग की तीर्थ यात्रा’नाम के इस ओपेरा में महाभिक्षु ह्वेनत्सांग की भावना महसूस कर सकेंगे, उन्होंने मुश्किलों को पार करते हुए बड़े साहस के साथ भारत की तीर्थ यात्रा की और बौद्ध सूत्रों को वहां से चीन वापस लाए। उनकी यह भावना वर्तमान में चीनियों द्वारा दिखाई जा रही भावना ही है। आशा है कि अमेरिकी दर्शक इस ओपेरा से चीन की संस्कृति जानेंगे और रेशम मार्ग के तटीय देशों की रीति रिवाज़ का लुत्फ भी उठा सकेंगे।”

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी