यूएन रिपोर्टः मानव स्वास्थ्य के सामने आयी वातावरण धमकी का सही तरीके से निपटारा करें

2019-03-14 10:38:00

यूएन रिपोर्टः मानव स्वास्थ्य के सामने आयी वातावरण धमकी का सही तरीके से निपटारा करें

स्थानीय समयानुसार 13 मार्च को संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम ने छठी आंकलन रिपोर्ट “वैश्विक पर्यावरण आउटलुक” जारी की। रिपोर्ट में चेतावनी दी गयी है कि हाल में पृथ्वी के वातावरण को गंभीर रूप से नुकसान पहुंचा है। यदि हमने आपात कदम नहीं उठाए तो मनुष्य के स्वास्थ्य के लिए गंभीर खतरा पैदा हो जाएगा।

पिछले पाँच सालों में संयुक्त राष्ट्र संघ ने वैश्विक पर्यावरण स्थिति का पूरा आंकलन किया। 13 मार्च को संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम ने छठी रिपोर्ट जारी की, जिस की थीम है पृथ्वी और मनुष्य का स्वास्थ्य। विश्व के 70 से अधिक देशों के 250 वैज्ञानिकों ने एक साथ यह रिपोर्ट लिखी।

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम की कार्यकारी प्रधान जॉइस मसुया ने एक न्यूज ब्रीफिंग में कहा कि रिपोर्ट ने हमें एक साफ़ सूचना दी है कि सिर्फ सोशल मीडिया पर अपील से पूरा परिवर्तन नहीं किया जा सकता है। हमें अनाज, ऊर्जा और कचरे तीन व्यवस्थाओं पर नजर रखनी चाहिए। रिपोर्ट में बताया गया कि स्वस्थ पर्यावरण आर्थिक समृद्धि, मानव स्वास्थ्य और लाभांश की बुनियादी जरूरत है। कारगर पर्यावरण नीति आर्थिक विकास के लिए लाभदायक सिद्ध होगा। हाल में विश्व के अनेक देशों व संगठनों ने अनवरत विकास के प्रस्ताव बनाये हैं। उदाहरण के लिए चीन, नोर्वे और यूरोपीय संघ की कार्यवाइयों की मिसाल प्रभावी है।

गौरतलब है कि वैश्विक पर्यावरण आउटलुक रिपोर्ट विभिन्न देशों की सरकारों और संबंधित पक्षों को पर्यावरण संबंधी निर्णय लेने के सबूत देने वाली सिलसिलेवार रिपोर्टें हैं। पहली रिपोर्ट 1997 में जारी की गयी थी।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी