अमेरिका के विभिन्न जगतों ने टैरिफ़ बढ़ाने का विरोध किया

2019-08-03 16:06:00

अमेरिकी सरकार ने 1 अगस्त को 3 खरब डॉलर के चीनी माल पर 10 प्रतिशत टैरिफ़ बढ़ाने की घोषणा की, जिससे व्यापारिक टकराव और गंभीर बना रहा। इसका अमेरिका के विभिन्न जगतों ने दृढ़ विरोध किया है।

अंतर्राष्ट्रीय मामलों के लिए अमेरिकी चैंबर ऑफ कॉमर्स के उपाध्यक्ष माय्रोन ब्रिलियंट ने कहा कि चीनी माल पर टैरिफ़ बढ़ाने से अमेरिका के उद्यम, किसान, मज़दूर और उपभोक्ताओं पर और बड़ी मुसीबत आएगी और अमेरिका की आर्थिक वृद्धि कमज़ोर होगी। अमेरिका के विभिन्न जगत आशा करते हैं कि रचनात्मक वार्ता के ज़रिए सलाह मश्विरे में प्रगति मिलेगी और शीघ्र ही बढ़ाए गए टैरिफ़ को रद्द किया जाएगा।

अमेरिकी लॉबीइंग संगठन टैरिफ्स हर्ट द हार्टलैंड ने कहा कि अमेरिकी सरकार लगातार गलत रणनीति की बाज़ी लगाती है। टैरिफ़ बढ़ाना समस्या का समाधान करने का उपाय नहीं है। अमेरिकी सरकार को हानिकारक रणनीति छोड़ कर चीन के साथ समझौता संपन्न करना चाहिए।

अमेरिका-चीन व्यापार परिषद के अध्यक्ष क्रेग एलन ने कहा कि अमेरिका और चीन ने शांगहाई में रचनात्मक व्यापारिक वार्ता की। इसके बाद अमेरिका ने फिर भी चीनी उत्पादों पर टैरिफ बढ़ाने का फैसला किया। यह कदम चिंताजनक है। इससे अमेरिका के किसानों, श्रमिकों और उपभोक्ताओं को और बड़ा नुकसान पहुंचेगा।

(ललिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी