ई-कॉमस पर पारंपरिक तिब्बती धूपबत्ती

2017-09-11 19:18:01

धूपबत्ती तिब्बत के बौद्धिक अनुयायियों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है । तिब्बत के सभी मंदिरों में बौद्ध मूर्तियों के सामने धूपबत्ती समर्पित करने का दृश्य दिखता रहा है । तिब्बत स्वायत्त प्रदेश के नींगची क्षेत्र के गातींग गांव में पारंपरिक तिब्बती धूपबत्ती का निर्माण करने से गांववासियों के जीवन स्तर को उन्नत किया गया है ।

गातींग गांव के मुखिया तावा पींगछो ने चाइना रेडियो इंटरनेशनल के संवाददाता से कहा,“हमें पारंपरिक तिब्बती धूपबत्ती बनाने की संस्कृति प्राप्त है । और इस के आधार पर हम दूसरे उत्पादों का निर्माण भी कर रहे हैं । हमारी योजना है कि सर्वप्रथम हम अपने उत्पादों के ब्रांड का प्रचार करेंगे और इसके बाद अधिक उत्पादों का विकास करेंगे ।”

तावा ने बताया कि वर्ष 2012 में गातींग गांव के 11 परिवारों ने चंदा एकत्र कर तिब्बती धूपबत्ती बनाने का एक कोऑपरेटिव स्थापित किया । सरकार ने उन्हें भी मदद दी । अब उन के वार्षिक बिक्री 2 लाख युवान तक पहुंच गई है । तावा के दाता जी भी तिब्बती धूपबत्ती बनाने का विशेषज्ञ माना जाता है । उन्हों ने धूपबत्ती बनाने वाले साधनों का परिचय दिया ।

तावा ने अपने कारोबार के अधिक विकास करवाने के लिए बाहर क्षेत्रों से मशीन खरीद लिया और वे मशीन तकनीक सीखने के लिए क्वांगचौ शहर और फूचैन प्रांत भी गये । उन्हों ने कहा,“वास्तव में मशीन हस्त-निर्मित से अच्छा है । क्योंकि मशीन से निर्मित उत्पाद अधिक साफ-सुथरा है । दूसरी बात है कि मशीन से निर्मित उत्पादों का प्रारूप भी समान है ।”

पारंपरिक तिब्बती धूपबत्ती बनाने में पुराने ग्रंथ के मुताबिक कई दवाइयों, सुगंधित सामग्रियों, पवित्र लकड़ियों तथा प्राकृतिक पौधों का प्रयोग किया जाता है । तावा ने इन सामग्रियों का परिचय देते हुए कहा,“पारंपरिक तिब्बती धूपबत्ती बनाने की कच्ची सामग्रियों में लौंग व इलायची जैसे तीसेक तिब्बती औषधि शामिल हैं । इसे जलाते समय सुगंध खुशबू आती है और शरीर के लिए भी अच्छा लगता है ।”

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी