हाइडेटिड रोग को रोकने का अभियान

2017-12-04 16:25:00

हाइडेटिड रोग को रोकने का अभियान

हाइडेटिड रोग तिब्बत स्वायत्त प्रदेश में व्यापक तौर पर प्रसारित बीमारी माना जाता है । सन 2015 के अक्तूबर से चीनी जन मुक्ति सेना के नम्बर 302 अस्पताल के अनेक विशेषज्ञ दलों ने तिब्बत के शिगाज़े और शाननान आदि क्षेत्रों में इस रोग की जांच कर सात हजार से अधिक रोगियों का इलाज किया । उन में 90 रोगियों का ऑपरेशन किया गया और उन की हालत अच्छी रहती है । तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की सरकार ने भी हाइडेटिड रोग को रोकने में अनेक कदम उठाये और वर्ष 2020 तक इस के प्रसार को नियंत्रित करने का लक्ष्य बनाया है । वर्ष 2016 चीन के भीतरी इलाकों के अनेक अस्पतालों या दूसरे संगठनों ने तिब्बत में लिवर हाइडेटिड रोग से ग्रस्त लोगों के इलाज के लिए विशेष अभियान चलाया । उन्हों ने गठित चिकित्सक दल भेजकर तिब्बती रोगियों का निःशुल्क उपचार किया और ऐसे रोग की रोकथाम के लिए जानकारियों का प्रसार भी किया ।

हाइडेटिड रोग तिब्बत के देहाती क्षेत्रों में सामान्य रोग माना जा रहा है । तिब्बत को छोड़कर वह सिंच्यांग, छींगहाई और नींगश्या आदि प्रदेशों के घास मैदानों पर भी प्रचलित है । आदमी को कभी कभी कुत्ता और भेड़ आदि पशुओं के माध्यम से ऐसे रोग से संक्रमित लगता है और बहुत से रोगियों की इसी बीमारी से मौत हुई है । भीतरी इलाकों से आये डाक्टरों ने हाइडेटिड रोग से ग्रस्त इन तिब्बतियों की बड़ी मदद की है ।

गत वर्ष 32 वर्षीय महिला थेनज़ीन यूद्रोन तिब्बत स्वायत्त प्रदेश के शाननान शहर में रहती हैं । चीनी जन मुक्ति सेना के नम्बर 302 अस्पताल के विशेषज्ञों ने थेनज़ीन और इन की बेटी के लिए हाइडेटिड सर्जरी की और दोनों की हालत अच्छी रही है । थेनज़ीन ने कहा,“पेइचिंग से आये विशेषज्ञों ने मेरे लिए रोग का इलाज किया । मैं बहुत आभारी हूं ।”

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी