चीन और रूस लाल पर्यटन सहयोग बढ़ा रहे हैं

2017-12-22 15:07:10

चीन और रूस लाल पर्यटन सहयोग बढ़ा रहे हैं

चीन और रूस के बीच लाल पर्यटन सहयोग बैठक हाल ही में मॉस्को के उपनगर स्थित देशभक्ति पार्क में आयोजित हुई। लाल पर्यटन का मतलब है कि पवित्र क्रांतिकारी स्थलों की यात्रा। रूसी रक्षा मंत्रालय, संस्कृति मंत्रालय, पर्यटन ब्यूरो, चीनी राजकीय पर्यटन ब्यूरो, चीनी पर्यटन संघ और दोनों देशों के पर्यटन जगत के कई सौ प्रतिनिधियों ने इस बैठक में भाग लिया। उन्होंने चीन और रूस के बाच लाल पर्यटन के विकास और आपसी सहयोग पर विचार विमर्श किया।

रूस में लाल पर्यटन का कंसेप्ट वर्ष 2013 में निकाला गया था। इसके बाद चीनी पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए रूस में सोवियत संघ की लाल क्रांति की स्मृति ढूंढने, मशहूर व्यक्तियों के आवास की यात्रा, चीनी क्रांतिकारी इतिहास से जुडे स्थलों का दौरा जैसी पर्यटन श्रृंखला प्रस्तुत की गयी। रूस में लाल पर्यटन के बड़ी मात्रा में स्थल और संसाधन हैं। लाल स्मृति चीनियों के लिए एक बड़ा आकर्षण है। हांगकांग के एजकेएस टीवी के उत्तर पूर्वी क्षेत्र के महाप्रबंधक सोंग योवू ने बताया कि चालीस वर्ष पहले जब वे प्राइमरी स्कूल में थे, तो टेक्सटबुक में लेनिन, गोर्की, टॉलस्टॉय, पुश्किन जैसे विश्वविख्यात रूसी हस्तियों की कहानियां उनके पाठ्यक्रम में शामिल थीं। इन कहानियों से उनपर गहरा प्रभाव पड़ा था। उन्होंने बताया, वर्ष 2014 में मैं शीतकालीन ओलंपिक देखने के लिए सोची गया। सड़क पर गोर्की की प्रतिमा देखकर मेरे दिल में उमंग भर गई। इसके बाद मैंने माता पिता के साथ कई बार रूस की यात्रा की।

एक मीडियाकर्मी होने के नाते सोंग योवू के विचार में चीन रूस लाल पर्यटन सहयोग की बड़ी संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की छठी राष्ट्रीय कांग्रेस मॉस्को में आयोजित हुई, जो सीपीसी के इतिहास में देश के बाहर हुई एकमात्र कांग्रेस थी। वर्ष 2018 में सीपीसी की छठी कांग्रेस की 90 वीं वर्षगांठ मनाई जाएगी। वर्ष 2021 में सीपीसी की स्थापना की 100 वीं वर्षगांठ होगी। ये महत्वपूर्ण ऐतिहासिक जयंती चीन और रूस के बीच लाल पर्यटन सहयोग के विस्तार का सुअवसर होगा।

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी