तिब्बती लोकतांत्रिक सुधार की 60वीं वर्षगांठ की पुस्तकों का विमोचन पेइचिंग में आयोजित

2019-04-01 20:01:01

तिब्बती लोकतांत्रिक सुधार की 60वीं वर्षगांठ की पुस्तकों का विमोचन पेइचिंग में आयोजित

तिब्बती लोकतांत्रिक सुधार की 60वीं वर्षगांठ की पुस्तकों का विमोचन 31 मार्च को पेइचिंग में आयोजित हुआ। चीनी तिब्बती संस्कृति संरक्षण व विकास संघ और चीनी तिब्बती शास्त्र अध्ययन केंद्र ने संयुक्त रूप से इस विमोचन का आयोजन किया।

विमोचन में सात नयी पुस्तकें जारी की गयीं। वे क्रमशः हैं 《हिमालय के कैदी》,《ल्हासा की छवि》,《जनरल परिवार की शैली》,《मैदान पर रेबा बुजुर्ग》,《बर्फ़ीले पठार पर लोग》,《कसोंग गांव के 60 वर्ष》,《यूमाई गांव》।

चीनी तिब्बती शास्त्र प्रकाशन गृह के प्रमुख होंग थाओ ने भाषण में कहा कि व्यापक व गहन रूप से तिब्बती लोकतांत्रिक सुधार के 60 वर्षों में प्राप्त महान उपलब्धियों को दिखाने के लिये प्रकाशन गृह ने उन पुस्तकों की तैयारी की। उन पुस्तकों में मूल्यवान चित्र व लेख सामग्री, व्यक्तियों की जीवनी, यात्रा की नोटिस आदि दृष्टि से व्यापक तौर पर तिब्बत में लोकतांत्रिक सुधार के 60 वर्षों में हुए महान बदलाव को दिखाया गया।

तिब्बती लोकतांत्रिक सुधार की 60वीं वर्षगांठ की पुस्तकों का विमोचन पेइचिंग में आयोजित

चीनी जातीय विश्वविद्यालय और पेइचिंग तिब्बत मिडिल स्कूल के विद्यार्थियों के प्रतिनिधियों ने कहा कि उन पुस्तकों ने विविध व व्यापक रूप से तिब्बत के आधुनिक इतिहास को बताया, और तिब्बत में लोकतांत्रिक सुधार के महान कार्य को दिखाया। उन पुस्तकों को पढ़कर हम अच्छी तरह से तिब्बत के नये व पुराने समाज की भिन्नता को समझ सकेंगे। साथ ही आज के खुशहाल जीवन को महसूस कर सकेंगे, और अपने जन्मस्थान के निर्माण में भाग लेने की कोशिश करेंगे।

चंद्रिमा

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी