तिब्बत में वृद्ध सेवा से संबंधित कार्यों में सुधार

2019-04-25 16:32:00

हाल ही में तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की सरकार ने बूढ़ापे की देखभाल की सेवा में अधिक सुधार लाने के प्रति एक दस्तावेज़ तैयार की है जिसके मुताबिक तिब्बत में बूढ़ों की सेवा में अधिक सुधार लाया जाएगा।

तिब्बत स्वायत्त प्रदेश के नागरिक मामले के विभाग के एक वरिष्ठ पदाधिकारी के अनुसार प्रदेश में बूढ़ों की देखभाल सर्विस का निरंतर विकास किया जा रहा है। वर्ष 2018 के अंत तक स्वायत्त प्रदेश में कुल 97 वृद्धाश्रम रखे हुए हैं जिनके पास 11783 पलंग उपलब्ध हैं। राजधानी ल्हासा और शाननान आदि शहरों में वृद्धाश्रमों का आधुनिकीकरण भी लगातार किया जा रहा है। इस के अतिरिक्त तिब्बत में बूढ़ों की देखभाल में मेडिकल सर्विस भी शामिल कराना शुरू किया गया है। ऐसा प्रयोगात्मक काम अनेक क्षेत्रों में शुरू होने लगा है। वर्ष 2018 के अंत में "तिब्बती फूकांग चिकित्सा एवं बूढ़ों की देखभाल केंद्र" की स्थापना की गयी। जो बूढ़ों की देखभाल करने के अतिरिक्त चिकित्सा सेवा भी प्रदान कर सकता है। इस तरह बूढ़े लोग वृद्धाश्रम में रहते ही चिकित्सा सेवा भी ले सकते हैं और उन्हें पेशेवर और व्यापक स्वास्थ्य सेवाएं मिल सकती हैं। वर्ष 2019 में तिब्बत में वृद्ध सेवा से संबंधित कार्यों को बढ़ाया जाएगा, और वृद्ध सेवा एजेंसी के लिए स्थानीय मानक तैयार किया जाएगा। स्वायत्त प्रदेश के नागरिक मामलों के विभाग में कार्यरत एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि वर्ष 2019 में तिब्बत की वृद्ध देखभाल से संबंधित 18 मानक बनाने में 45 लाख युआन की पूंजी डाली जाएगी। इस पदाधिकारी का कहना है कि बूढ़ों की सर्विस के बाजार को खोलने के संदर्भ में विशेष अनुसंधान का काम भी किया जाएगा। स्वायत्त प्रदेश के कर्मचारी दूसरे प्रांतों में उन्नतिशील अनुभव सीखेंगे और साथ ही वे ग्रामीण और चरागाह क्षेत्रों की वास्तविक जरूरतों की जांच-पड़ताल करने जाएंगे। ताकि स्वायत्त प्रदेश में वृद्ध सेवा की ठोस स्थितियों के अनुसार यह काम अच्छी तरह कर सकें।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी