महिलाएं कैसे जी सकती हैं तनाव मुक्त जीवन

2017-11-30 11:18:05

प्रिय महिलाओं आप अपने आप को कमजोर कभी मत समझिए, क्योंकि समाज में जितना अधिकार और महत्व पुरुषों का है उतना ही अधिकार और महत्व महिलाओं का भी है।

सही मायनों में कोई देश विकसित तभी बन सकता है, जब उस देश की महिलाओं को बराबरी के अधिकार और सम्मान प्राप्त हों।

महिलाओं को खुद अपने मानसिक तनाव को कम करने के उपाय सीखने होंगे।बिना महिलाओं के समाज अधूरा और महत्वहीन है।

एक माँ के रूप में बच्चे की बेहतर परवरिश कर योग्य नागरिक बनाने का योगदान हो या एक पत्नी के रूप में अपने पति का हर मुश्किल परिस्थिति में साथ देकर उसका मनोबल बढ़ाना, या एक बेटी और बहू के रूप में अपने माता-पिता और सास-ससुर की देखभाल करना, इन सभी भूमिकाओं में भारतीय महिलाएं समाज को अपना अमूल्य योगदान देती रही हैं।

वक्त बदलने के साथ अब अधिकांश महिलाएं व्यवसाय या नौकरी करने के लिए घर के बाहर जा रही हैं। लेकिन उनसे अभी भी यही अपेक्षा की जाती है कि वे परिवार का भी उतना ही ख्याल रखें।

ये अपेक्षाएं महिलाओं में तनाव का मुख्य कारण है। और इस तनाव से निपटना आज की महिला के लिए मुख्य चुनौती है।

कुछ सुझाव जो महिलाओं को खुश रहने में मददगार हो सकते हैं :-

  अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें। अपने स्वास्थ्य की देखभाल के लिए समय दें और इसके लिए पैसा खर्च करने में संकोच ना करें, क्योंकि आपका स्वास्थ्य आपके लिए अनमोल है।

  आत्मनिर्भर रहना सीखें। जरूरी नहीं कि आप पैसा ही कमाएं, लेकिन आत्मनिर्भर होना महत्वपूर्ण है।

  यदि आप सीख सकती हैं तो कार या बाइक चलाना सीखें, ये जरूरी नहीं है कि हमेशा आपके साथ कोई हो।

  अपनी बचत और आय के प्रबंधन करने के लिए निवेश और करों के बारे में सीखें। हमेशा इन सबके लिए किसी पर निर्भर ना रहें।

  अपनी इच्छाओं या उपहारों के लिए भी बचत करें। ये जरूरी नहीं कि हर बार आपके पति या बॉयफ्रेंड या आपके पापा ही आपके लिए आपकी पसंद के उपहार लाएं। खुद को भी गिफ्ट दीजिये।

कैलेंडर

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी