प्रवासी चीनियों के बच्चों की शिक्षा पर ध्यान दे रही अध्यापिका ल्यू

2019-03-27 17:05:00

विद्यार्थी:पसंद है, बहुत पसंद है। क्योंकि वे हमें खूब सिखाती हैं।

एक बच्चे की मां ने कहा कि उनके दो बच्चे हैं, बड़े वाले की उम्र दस है, और छोटे वाले की उम्र छह है। दोनों स्थानीय स्कूल में पढ़ते हैं। आम जीवन में वे स्पेनिश बोलते हैं। घर में हम जन्मस्थान की भाषा बोलते हैं। और अवकाश के समय में वे चीनी भाषा सीखते हैं। धीरे धीरे से चीनी भाषा सीखने में उन का शौक पैदा हुआ। साथ ही उन्होंने चीनी स्कूल में बहुत अच्छे दोस्त भी बनाये। उन्होंने कहा,हम सभी चीनी लोग हैं। इसलिये चीनी भाषा सीखने की आवश्यकता है। शुरू में उन्हें पसंद नहीं थी, लेकिन अब चीनी भाषा सीखने का उन्हें बहुत शौक है। उन के ख्याल से चीनी भाषा बहुत महान है।

युकातान प्रायद्वीप प्रवासी चीनी स्कूल के प्रधानाचार्य व संस्थापक श्री बाए ई ने संवाददाता से कहा कि हमारे स्कूल की स्थापना वर्ष 2014 में हुई। स्कूल में 12 कक्षाएं और दस से अधिक अध्यापक शामिल हैं। निःशुल्क से स्थानीय प्रवासी चीनियों के बच्चों को चीनी भाषा सीखाने के अलावा स्कूल ने स्थानीय विश्वविद्यालय में शिक्षा केंद्र की स्थापना भी की, और मेरिदा की सरकार को पर्यटन व संस्कृति आदि विभागों के संबंधित व्यक्तियों को प्रशिक्षण देने की सहायता भी दी। प्रधानाचार्य बाए ई ने कहा,हमारे इस स्कूल की स्थापना वर्ष 2014 में की गयी। इस स्कूल की स्थापना की क्यों की गयी ?क्योंकि यहां कई सालों से चीनी शिक्षा नहीं पढ़ाई गयी। हमारे यहां कई पीढ़ी वाले प्रवासी चीनी अपनी भाषा नहीं बोल सकते। इस पृष्ठभूमि में मैंने इस चीनी स्कूल की स्थापना की। बच्चों को यहां मुफ्त में शिक्षा मिलती है। प्रवासी चीनियों के बच्चों के अलावा मैक्सिको के स्थानीय लोग भी यहां आकर चीनी भाषा सीखते हैं। उन्हें चीनी संस्कृति को बहुत पसंद है। साथ ही हमने विभिन्न विश्वविद्यालयों में अध्यापक भेजकर शिक्षा केंद्रों की स्थापना की। उन में यहां का सबसे मशहूर विश्वविद्यालय अनाहुआक मायाब भी शामिल हुआ है। अब हमारी चीनी शिक्षा इस विश्वविद्यालय का अनिवार्य पाठ्यक्रम बन गया।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी