बेल्ट एंड रोड पहल पर चीन ने कदम उठाकर संदेह दूर किया

2019-05-08 21:42:00

दूसरे बेल्ट एंड रोड अंतर्राष्ट्रीय सहयोग शिखर मंच ने 40 देशों व सरकारों के नेताओं, अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के प्रमुखों को आकर्षित किया। साथ ही 150 देशों व 92 अंतर्राष्ट्रीय संगठनों से आए छह हजार से अधिक विदेशी मेहमानों ने भी इसमें भाग लिया। विभिन्न पक्षों ने मंच की तैयारी व आयोजन के दौरान कुल मिलाकर 283 कारगर उपलब्धियां हासिल की हैं। ऐन ली ने कहा कि वास्तविकता से यह जाहिर हुआ है कि बेल्ट एंड रोड पहल को अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में ज्यादा से ज्यादा ध्यान, समर्थन व भागीदारी मिल रही है। और इस बार मंच के आयोजन से अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को और गहन करने की आवाज़ तेज हुई है।

ऐन ली ने कहा कि चीन द्वारा पेश की गयी इस पहल ने बेल्ट एंड रोड के तटीय देशों व क्षेत्रों को महत्वपूर्ण आर्थिक व सामाजिक विकास का मौका तैयार किया। सभी लोगों ने यह देखा है। इसकी चर्चा में उन्होंने कहा,यह बहुत स्पष्ट है कि बेल्ट एंड रोड पहल ने बहुत विकासशील देशों को अपने देश में बुनियादी सुविधाओं के निर्माण की कमी को दूर करने में मदद दी है। साथ ही उन की आर्थिक वृद्धि को भी बढ़ावा दिया गया। इस में कोई संदेह नहीं हुआ। इस के अलावा इस पहल ने सचमुच देशों व क्षेत्रों के बीच आपसी संपर्क को मजबूत किया, और इस पहल से विभिन्न पक्षों ने सृजन सहयोग के स्तर व गुणवत्ता को भी मजबूत किया है। हाल ही में बेल्ट एंड रोड के बहुत तटीय देशों को आर्थिक विकास का अच्छा मौका मिला है। और कुछ देश भविष्य में इस पहल में भाग लेने से ज्यादा अच्छा विकास प्राप्त करने की प्रतीक्षा में हैं।

ऐन ली ने बताया कि चीन द्वारा पेश की गयी बेल्ट एंड रोड पहल का उद्देश्य विभिन्न देशों के साथ आपसी लाभ व समान जीत वाले सहयोग करना है। लेकिन अमेरिका आदि पश्चिमी देशों को इस बात पर चिंता है कि यह पहल विश्व के दायरे में उनके हितों को हानि पहुंचाएगी। इसलिये उन्होंने सुरक्षा, राजनीति व आर्थिक विकास आदि दृष्टि से इस पहल के प्रति संदेह जाहिर किया। इस के प्रति ऐन ली ने कहा कि चीन और बेल्ट एंड रोड में शामिल विस्तृत देशों को अपने सही चुनाव पर कायम रहना चाहिये, और वास्तविक कार्रवाई से इसे साबित करना चाहिये कि खुलेपन, आपसी संपर्क, पारस्परिक लाभ व दोनों जीत वाला रास्ता खुली वैश्विक अर्थव्यवस्था के निर्माण में एक आवश्यक चुनाव है। इस की चर्चा में उन्होंने कहा,मेरे ख्याल से चीन व बेल्ट एंड रोड में शामिल विभिन्न देशों को अपने सही चुनाव पर कायम रहना चाहिये। बेल्ट एंड रोड का विकास अब केवल शुरूआती दौर में है। वर्तमान व भविष्य में इस के सामने ज़रूर सिलसिलेवार जोखिम व चुनौतियां मौजूद होंगी। अगले चरण में चीन को जोखिमों के मुकाबले के लिये अच्छी तरह से तैयारी करनी चाहिये। और हाल ही में चीन को सहयोग के साझेदारों की मांग व सुझाव पर ध्यान देना, विभिन्न पक्षों के साथ चर्चा करके एक साथ निर्माण करना, और विकास से मिली उपलब्धियों को एक साथ साझा करना चाहिये। वास्तव में अमेरिका के साथियों समेत कई पश्चिमी देशों ने बेल्ट एंड रोड पहल में भाग लिया है। आशा है कि उनकी सफलता से अमेरिका भी जल्द ही समझेगा कि बेल्ट एंड रोड अमेरिका के प्रति भी समान महत्वपूर्ण है। लेकिन इसे समय चाहिए।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी