ल्हासा शहर का तिब्बती शैली वाला होटल

2019-07-04 06:06:00

वर्तमान में ल्हासा में ऐसे होटलों की संख्या दस से अधिक है। पर बानाक शोल उनमें सब से विख्यात है और उसका शहर में अपना अलग स्थान है। बानाक शोल को तिब्बत के ल्हासा शहर के तिब्बती शैली वाले पहले छोटे पर्यटन होटल की हैसियत के साथ चीन के ऐसे प्रथम पहाड़ी होटल का भी दर्जा हासिल है और यह विश्व पर्यटन संगठन द्वारा चुने गये दस सर्वश्रेष्ठ पहाड़ी पर्यटन होटलों में भी शामिल है। पहाड़ी होटल का अर्थ है पठारीय या पर्वतनीय क्षेत्रों में पर्यटकों का सत्कार करने वाला सस्ता होटल। बानाक शोल का किराया इतना सस्ता नहीं है पर वह बहुत सी सुविधाएं उपलब्ध कराता है। इस होटल के आँगन में एक विज्ञापन बोर्ड खड़ा है जिसपर विभिन्न विषयों के संदेश लगे मिलते हैं।

बानाक शोल होटल सूचनाओं के आदान-प्रदान के अतिरिक्त विचारों के आदान-प्रदान की भी अच्छी जगह है। इस होटल के तंग कमरों में विभिन्न देशों के पर्यटक इकट्ठे होकर यात्रा के अपने खट्ट-मीठे अनुभवों को आपस में बांटते हैं और एक-दूसरे को समझने की कोशिश करते हैं। यहां सांस्कृतिक पृष्ठभूमि की भिन्नता भी उन की सहजता और स्नेह को बाधित नहीं करती।

बानाक शोल के आँगन के बीचोंबीच एक छोटा बगीचा भी है। बगीचे के एक खुले भाग में कई बड़ी-बड़ी छतरियां खड़ी हैं। इनके नीचे मेज़ें और कुर्सियां लगी हैं। पर्यटक यहां बैठकर खाना खाते हैं। चाय पीते हैं और किताब पढ़ते हैं या गपशप करते हैं। कुछ खामोश बैठे अपने आप में लीन भी रह सकते हैं। यहां आकर लोग अपने मनोभाव को व्यवस्थित कर सकते है।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी