शी चिनफिंग ने एससीओ शिखर सम्मेलन में महत्वपूर्ण भाषण दिया

2021-05-15 05:03:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 10 नवंबर को आयोजित शांगहाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन के 20वें अधिवेशन में वीडियो के जरिए महत्वपूर्ण भाषण दिया।

शी चिनफिंग ने कहा कि मनुष्य एक ही वैश्विक गांव में रहते हैं। सभी देशों के हित और भाग्य एक दूसरे से जुड़े हैं। लोगों को बेहतर जीवन की अभिलाषा है। शांति, विकास, सहयोग और पारस्परिक-जीत का युग एक अपरिवर्तनीय प्रवृत्ति है। इतिहास यह साबित करता रहेगा कि अच्छी-पड़ोसी मित्रवत संबंध, आपसी लाभकारी सहयोग और बहुपक्षवाद से ज्यादा लाभ मिलेगा।

शी ने कहा कि वर्तमान में एससीओ को "शांगहाई की भावना" को बढ़ावा देकर आपसी सहयोग गहराना चाहिए, क्षेत्रीय देशों की स्थिरता और विकास के लिए ज्यादा योगदान देना चाहिए और मानव जाति के साझे समुदाय को बढ़ावा देने के लिए ज्यादा व्यावहारिक अन्वेषण करना चाहिए।

शी चिनफिंग ने यह भी कहा कि सभी देशों को संयुक्त रूप से महामारी की रोकथाम और नियंत्रण को मजबूत करना, महामारी से लड़ने के लिए एक दूसरे के प्रयासों का समर्थन करना, महामारी निगरानी, वैज्ञानिक अनुसंधान और रोग की रोकथाम जैसे क्षेत्रों में सहयोग गहराना चाहिए। चीन एससीओ सदस्य देशों के सीडीसी से एक हॉटलाइन स्थापित करने की अपील करता है। चीन सदस्य देशों में वैक्सीन की मांग के बारे में भी विचार करेगा।

चीनी राष्ट्रपति ने आगे कहा कि हमें संबंधित देशों के कानून के अनुसार प्रमुख घरेलू राजनीतिक एजेंडा को सुचारू रूप से आगे बढ़ाने का मजबूती से समर्थन करना चाहिए, राजनीतिक सुरक्षा और सामाजिक स्थिरता बनाए रखने में देशों का समर्थन करना चाहिए, और किसी भी बहाने सदस्य देशों के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने वाली बाहरी ताकतों का विरोध करना चाहिए।

अपने भाषण में शी चिनफिंग ने जोर देते हुए कहा कि समान विकास ही सच्चा विकास है और सतत विकास ही अच्छा विकास है। हमें नवाचार, समन्वय, हरित, खुलेपन और साझाकरण की विकास अवधारणा को बनाए रखते हुए व्यावहारिक सहयोग का विस्तार करना चाहिए और आर्थिक बहाली व जनजीवन में सुधार करना चाहिए।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी