अमेरिका की आलोचना करने के लिए लाईन में खड़े सौ से अधिक देश

2021-06-02 15:01:00

इसी समय, महामारी के तहत जान और मृत्यु की परीक्षा ने अमेरिका में नस्लीय मतभेद को और अधिक चौड़ा कर दिया। 30 से 39 वर्ष की आयु के लोगों में कोविड-19 से संक्रमित लातिनी अमरीका मूल और अफ्रिका मूल के लोगों की मृत्यु दर 38.4 प्रतिशत और 27.9 प्रतिशत है, जो गोरे लोगों की 20.2 प्रतिशत से अधिक है। अमेरिकी सार्वजनिक नीति अनुसंधान संगठन के फाउंडेशन ने हाल ही में एक लेख जारी किया कि हर हफ्ते कोविड-19 से संक्रमित अश्वेत लोग मर जाते हैं। यदि उनका अग्रिम में इलाज किया जाए तो कई मौत के मामलों को बचाया जा सकता है।

अपने देश में कई मानवाधिकार समस्याएं हैं और अमेरिकी राजनीतिज्ञों ने अपने काले हाथों को पूरी दुनिया में रखा है और बार-बार मानवीय आपदा बनायी। ईरान में अमेरिका द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों के कारण मधुमेह के रोगियों के लिए इंसुलिन का इंजेक्शन भी बाधित है और कोविड-19 महामारी ने लोगों के जीवन को और बुरा बनाया। अमेरिकी राजनीतिज्ञों ने मदद नहीं देने के अलावा महामारी के मौके पर प्रतिबंधों को भी बढ़ाया। दुनिया भर की आलोचना के सामने अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पिओ ने कहा कि हमें न केवल मानवाधिकारों पर चर्चा करनी चाहिए, बल्कि मानवाधिकारों का संरक्षण भी करना चाहिए।

(मीनू)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी